0 0
Read Time:6 Minute, 12 Second

हैलो दोस्तों आज हम आपको बतायेंगे कि आपका अभी इम्युनिटी लेवल कितना है  और घर में ही कैसे चेक कर सकते है  इसके लिए आपको ब्लड टेस्ट रिपोर्ट  नहीं बता सकती है | हम आपका एक इम्युनिटी स्कोरकार्ड बनाएंगे| 

जैसाकि आप लोग जानते है कि जो शरीर अंदर से जितना साफ़ होगा उसमे ज्यादा Immunity होगी | इसको हम एक उदहारण से समझते है – दो डस्टबिन है एक बिल्कुल खाली और एक में गंदगी या कूड़ा भरा पढ़ा है | आपको क्या लगता है कि कोई कीटाणु आएंगे तो वह किस डस्टबिन में घर बनाएगा जाएगा  जाहिर सी बात है जिस डस्टबिन में कूड़ा भरा पढ़ा है उसमे जायगा | कुछ ऐसा ही हमारे बॉडी में होता है जब हम गलत खाना कहते है और हम खाते ही रहते है तो हमारा शरीर अंदर से गन्दा हो जाता है और जो शरीर अंदर से गन्दा होगा वह कीटाणु की आकर्षित करेगा | जो शरीर अंदर से साफ़ होगा उसमे  कीटाणु आएंगे ही नहीं | अगर आपके शरीर में गन्दगी नहीं होगी तो अपनेआप ही आपकी इम्युनिटी अच्छी होगी | 

अब आप पूछेंगे कि मुझे कैसे पता चलेगा कि हमारा शरीर साफ़ है या नहीं ? मेरी इम्युनिटी अच्छी है या नहीं ? 

प्राचीनकाल से हमारे वेदो में इम्युनिटी से सम्बंधित काफी कुछ जानकारी दिया गया है | प्राचीन वेदों में आठ लक्षण बताये है जोकि हम आपसे  बातचीत करेंगे और आप अगर हो  सके तो एक चेकलिस्ट बनाइये जिससे आपको अपना Immunity लेवल पता चलेगा कि कितना है | 

१, इम्युनिटी का पहला लक्षण : रोज़ पेट का साफ़ होना – सही टाइम में सही मात्रा में आपका पेट साफ़ होना | कम से कम दिन में एक बार अपने आप पेट साफ़ होना चाहिए बिना किसी गोली या चूरन के | सबसे बढ़िया सुबह अपने आप पेट साफ़ होता है तो बहुत अच्छा होता है | अगर रोज़ आपका  पेट नहीं साफ़ हो रहा है तो इसका मतलब आपके पेट में कब्ज़ है मतलब जो गंदगी बाहर निकालनी थी वो अब अंदर ही अंदर जमा हो रही है  और जैसे कि  हमने समझा कि झा गन्दगी होगी वहाँ कीटाणु अपने आप ही आएंगे | अगर आपका हर रोज़ पेट साफ़ हो रहा है तो आप अपने इम्युनिटी स्कोरकार्ड में यह लक्षण लिख कर टिक लगा दे | 

Source- Plantfont

२. इम्युनिटी का दूसरा लक्षण: ज्यादा वजन न होना – इसका मतलब है कि जरुरत से ज्यादा वजन न होना अगर रोज सुबह अच्छी तरह से पेट साफ़ हो रहा है तो आपका अपनेआप वजन कम होगा और जब पेट अच्छी तरह साफ़ नहीं होता है तो वजन बढ़ने लगता है अब आपका पेट ज्यादा है या नहीं यह हमको बताने की जरुरत नहीं है जिसका होता है उसको खुद को पता होगा अगर पेट ज्यादा है इसका मतलब पेट के गन्दगी जमी हुए है और immunity अपनेआप कम होगी| अगर आपका वजन कम है तो आप अपने इम्युनिटी स्कोरकार्ड में यह लक्षण लिख कर टिक कर सकते है  | 

३. इम्युनिटी का तीसरा लक्षण: त्वचा साफ़ होना – आपकी स्किन आपके शरीर के अंदर का शीशा है | हमे जब स्किन में एक्ने , स्पॉट्स और रैशेस होते है इसका मतलब हमारा खून साफ़ नहीं होता है उसमे गन्दगी जमी होती है और अगर आपका स्किन साफ़ है तो आप अपने इम्युनिटी स्कोरकार्ड में यह लक्षण लिख कर टिक कर सकते है  |

४. इम्युनिटी का चौथा लक्षण: आलस्य न आना – आपको आलस्य का अनुभव नहीं होना चाहिए | अगर आपको सुबह उठकर fresh महसूस नहीं लगता या आपको दिन में नींद आती है इसका मतलब आपकी immunity कम होगी| अगर आप सुबह अच्छा  फ्रेश feel करते है तो आपकी इम्युनिटी अच्छी  होगी | हमे आलस्य तब आता है जब अंदर से हमारे शरीर साफ़ नहीं है | लेकिन अगर आप दिनभर चुस्त दुरुस्त रहते हो  तो आप अपने इम्युनिटी स्कोरकार्ड में यह लक्षण लिख कर टिक कर सकते है  |

५. इम्युनिटी का पाँचवाँ लक्षण: तेज़ भूख का अनुभव होना – अगर आपको जब भी भूख लगे तो बहुत तेज़ भूक लगनी चाहिए | हममें से कुछ लोग को तेज़ भूख का अनुभव नहीं होता है पेट हमेशा भरा-२ सा लगा रहता है इसका मतलब यह है कि हमारा पुराना खाया हुआ भोजन अच्छे से पच नहीं रहा है  | अगर आपकी इम्युनिटी अच्छी है तो दिन में एक या दो बार बहुत तेज़ से भूख लगनी चाहिए और अगर आपको तेज़ भूख का अनुभव होता है तो आप अपने इम्युनिटी स्कोरकार्ड में यह लक्षण लिख कर टिक कर सकते है  |

६. इम्युनिटी का छंठा लक्षण: गहरी नींद आना – अगर आपको रात में बीच – २ नींद खुलती है या लेटने के बहुत देर बाद आपको नींद आती है तो इसका मतलब आपकी इम्युनिटी अछि नहीं है और अगर आपको बेड पर लेटते ही नींद आ जाती है या रात को नींद नहीं खुलती है तो आपकी इम्युनिटी अच्छी है तो आप अपने इम्युनिटी स्कोरकार्ड में यह लक्षण लिख कर टिक कर सकते है  |

Happy
Happy
100 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
100%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

3 thoughts on “घर में अपने इम्युनिटी को चेक करने का आठ आसान सा तरीके ? जानिए कैसे | 8 easy ways to check your Immunity at home. How ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *